वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज के लिए कल टीम का ऐलान, रोहित को मिल सकता है आराम

0
245
Team India
वेस्टइंडीज के खिलाफ सीमित ओवरों की घरेलू सीरीज के लिए गुरुवार को भारतीय टीम का चयन होगा, तो उपकप्तान रोहित शर्मा के कार्यभार प्रबंधन और सलामी बल्लेबाज शिखर धवन के खराब फॉर्म पर चर्चा की जाएगी.
  • सलामी बल्लेबाज शिखर धवन के खराब फॉर्म पर चर्चा की जाएगी
  • एमएसके प्रसाद की अध्यक्षता में चयन समिति की आखिरी बैठक

वेस्टइंडीज के खिलाफ सीमित ओवरों की घरेलू सीरीज के लिए गुरुवार को भारतीय टीम का चयन होगा, तो उपकप्तान रोहित शर्मा के कार्यभार प्रबंधन और सलामी बल्लेबाज शिखर धवन के खराब फॉर्म पर चर्चा की जाएगी. एमएसके प्रसाद की अध्यक्षता में चयन समिति की यह आखिरी बैठक होगी क्योंकि उनका और मध्य क्षेत्र के चयनकर्ता गगन खोड़ा का कार्यकाल समाप्त हो रहा है.

सब कुछ ठीक रहने पर रोहित को तीन मैचों की इस सीरीज से विश्राम दिया जाएगा, ताकि वह अगले साल न्यूजीलैंड दौरे पर तरोताजा रहें जहां भारत को पांच टी-20, तीन वनडे और दो टेस्ट खेलने हैं. भारतीय टीम को वेस्टइंडीज के खिलाफ तीन टी-20 मैच खेलने हैं जो मुंबई (छह दिसंबर), तिरुवनंतपुरम (आठ दिसंबर) और हैदराबाद (11 दिसंबर) में खेले जाएंगे. तीन वनडे चेन्नई (15 दिसंबर), विशाखापत्तनम (18 दिसंबर) और कटक (22 दिसंबर) में होने हैं.

रोहित ने इस साल आईपीएल समेत 60 प्रतिस्पर्धी मैच खेले हैं. इस साल वह 25 वनडे, 11 टी-20 खेल चुके हैं, जो कप्तान विराट कोहली से तीन वनडे और चार टी-20 अधिक है. विराट को दो बार आराम दिया जा चुका है. सलामी बल्लेबाज धवन के फॉर्म पर भी चर्चा होगी, जो विश्व कप से चोट के कारण बाहर होने के बाद से फॉर्म में नहीं है.

टेस्ट क्रिकेट में मयंक अग्रवाल का शानदार फॉर्म और लिस्ट-ए में 50 से अधिक की औसत के कारण उन्हें तीसरे सलामी बल्लेबाज के तौर पर शामिल किया जा सकता है. धवन ने बांग्लादेश के खिलाफ तीन टी-20 मैचों में 41, 31 और 19 रन बनाए. अपनी लय हासिल करने के लिए उन्होंने घरेलू क्रिकेट भी खेला, लेकिन बड़ा स्कोर नहीं बना सके

दूसरी ओर अग्रवाल ने बांग्लादेश के खिलाफ इंदौर टेस्ट में दोहरा शतक बनाया. ऋषभ पंत के लगातार खराब फॉर्म पर भी बात की जाने की संभावना है. महेंद्र सिंह धोनी ने अभ्यास शुरू कर दिया है और पंत आगामी सीरीज के लिए टीम में जगह नहीं बना पाते हैं, तो उन्हें 38 साल के इस धुरंधर से प्रतिस्पर्धा का सामना करना होगा.

हार्दिक पंड्या, जसप्रीत बुमराह, नवदीप सैनी और भुवनेश्वर कुमार अभी भी चोटों से जूझ रहे हैं, लिहाजा शिवम दुबे और शार्दुल ठाकुर का टीम में बने रहना तय है. स्पिन गेंदबाजी हरफनमौला वॉशिंगटन सुंदर और क्रुणाल पंड्या भी अपेक्षाओं पर खरे नहीं उतर सके हें. ऐसे में युजवेंद्र चहल और रवींद्र जडेजा के खेलने पर इनमें से एक को बाहर किया जा सकता है.

दीपक चाहर तेज आक्रमण की अगुवाई करेंगे, लेकिन खलील अहमद काफी महंगे साबित हुए हैं. उन्होंने पिछले दो टी-20 मैचों में आठ ओवरों में 81 रन दे डाले.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here